नवरात्रों में नहीं चढ़ा पाएंगे चुन्नी और प्रसाद, दूर से करने होंगे दर्शन, जानिए अन्य बातें

नवरात्रों में नहीं चढ़ा पाएंगे चुन्नी और प्रसाद

शिमला HNH | 17 अक्टूबर सें शुरू होने जा रहे नवरात्रों को लेकर प्रशाशन हर तरह से सावधानी बरत रहा है. कोरोना के प्रकोप से लोगों को बचाने के लिए प्रशाशन हर संभव प्रयास करेगा. इसी विषय पर नवरात्रों में मंदिरों में होने वाली व्यवस्था को लेकर शिमला में बैठक हुई. इस बैठक में निर्देश जारी किए गए.

यह बैठक डीसी शिमला अमित कश्यप की अध्यक्षता में हुई.

बैठक में लिए गए फैसले

  • मंदिरों को बंद करने का समय आधे से एक घंटा बढ़ाया जायेगा ताकि लोग आराम से मंदिरों में पूजा अर्चना कर सकें.
  • मंदिरों में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए आनॅलाइन आरती की व्यवस्था की जाएगी.
  • मंदिर परिसर और इसके बाहर श्रद्धालुओं के लिए उचित दूरी बनाए रखने के लिए गोलों की व्यवस्था की जाएगी ताकि भीड़ न लगे.
  • मंदिरों में श्रद्धालु किसी प्रकार का प्रसाद व चुन्नी नहीं चढ़ा सकेंगे.
  • मूर्तियों को छूना, टीका लगाना और हवन, मुंडन और कन्या पूजन करना सब बंद रहेगा.
  • मंदिरों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के साथ मास्क का इस्तेमाल करना भी जरूरी होगा.
  • मंदिरों में दाखिल होने से पहले श्रद्धालुओं की थर्मल स्कैनिंग होगी.
  • अगर जांच में किसी व्यक्ति का तापमान ज्यादा पाया जाता है तो उसको मंदिर परिसरों में बनाए गए आइसोलेशन रूम में रखा जाएगा.
  • मंदिर कमेटियां परिसर में स्कैनर नल और साबुन के लिए फूट पैडल हैंड वाॅश की व्यवस्था करेंगी.
  • कोविड संक्रमण से बचाव के बारे जागरूक करने के लिए होर्डिंग्स लगाए जायेंगे.
  • मंदिरों को सुबह-शाम और दिन में भी दो बार सेनेटाइज किया जायेगा.

बैठक में लिए गए इन फैसलों का सख्ती से पालन किया जायेगा. सब लोग इन बातों का पालन करें यह पुलिस और अन्य अधिकारी सुनिश्चित करेंगे.

यह भी पढ़ें: स्कूल, कॉलेज में 6 महीने की फीस माफ़ करने के लिए NSUI ने दिया धरना