खुद को आर्मी में बताकर दिया कार खरीदने का झांसा, फिर पूर्व सैनिक से ठग लिए 50 हजार

पूर्व सैनिक से ठग लिए 50 हजार
पूर्व सैनिक से ठग लिए 50 हजार

चंबा HNH | हिमाचल पुलिस साइबर क्राइम को रोकने का भरपूर प्रयास कर रही है. इसके लिए पुलिस समय समय पर जनता को सावधान भी करती रहती है. लेकिन शतिर ठग कोई नयी तरकीब लड़ाकर आम जनता को लूट लेते हैं.

ठगी का ताजा मामला चंबा जिले से आया है. चंबा के रहने वाले एक पूर्व सैनिक को शतीरों ने ऑनलाइन साइट से गाड़ी खरीदने के बहाने पचास हजार रुपये का चूना लगा दिया. शिकायतें बढ़ने पर पुलिस ने उनके लिए एडवायजरी जारी कर दी है.

चंबा के रहने वाले पूर्व सैनिक ने OLX इंडिया की वेबसाइट के माध्यम से एक कार खरीदनी चाही. ऑनलाइन खरीदारी के दौरान उन्हें अपनी जरूरत से मिलती जुलती एक कार का ऑफर मिला. कार बेचने वाले ने खुद को भारतीय सेना का बताया और बाहर पोस्टिंग होने का झांसा देते हुए कार की कुछ फोटो के साथ आर्मी पहचान पत्र, कैंटीन कार्ड भेज दिया.

फर्जी आई कार्ड के झांसे में आकर पूर्व सैनिक ने खाते में पैसा ट्रांसफर कर दिया, लेकिन उसे कार मिली ही नहीं. डीजीपी संजय कुंडू ने बताया की साइबर ठग आजकल पूर्व सैनिकों को सेना में कार्यरत होने का झांसा देकर ठगने का प्रयास कर रहे हैं. सोशल मीडिया के जरिये हनीट्रैप और फर्जी प्रोफाइल बनाकर पैसे मांगने जैसे अपराध दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं.

उन्होंने बताया कि पिछले कुछ समय में साइबर अपराधों में जबरदस्त इजाफा हुआ है. आंकड़ों की बात करें तो 31 जुलाई तक स्टेट साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में 1988 साइबर अपराध दर्ज हो चुके हैं जबकि पिछले साल कुल 1683 मामले आये थे.

यह भी पढ़ें: ATM कार्ड किया हैक, खाते से उड़ाए 56000 रूपये